भूखे लोगो का पेट भर रहे रीवा के युवा, लॉकडाउन में मुफ्त में बांट रहे भोजन और राशन

  भोपाल। कोरोना की दूसरी लहर ने हर तरफ तबाही का आलम नजर आ रहा है. सरकार के आंकड़ों और श्मशान की हकिकत बिल्कुल अलग-अलग दिखाई दे रहे है. असर ऐसा है कि हर शख्स परेशान और लाचार दिखाई देता है. किसी को बीमारी का डर है, तो किसी को इलाज की फिक्र सता रही […]

bhopal news
X

muft me bant rhe bhojan
bhopal

भोपाल। कोरोना की दूसरी लहर ने हर तरफ तबाही का आलम नजर आ रहा है. सरकार के आंकड़ों और श्मशान की हकिकत बिल्कुल अलग-अलग दिखाई दे रहे है. असर ऐसा है कि हर शख्स परेशान और लाचार दिखाई देता है.

किसी को बीमारी का डर है, तो किसी को इलाज की फिक्र सता रही है.घर से लेकर गली-मोहल्ले रास्ते और चौराहों तक एक सा ही मंजर दिखाई देता है.

अपनों की खैरियत की चिंता में लोग दवाखानों से लेकर अस्पतालों तक बेपरवाह से भाग रहे है. ना उनके खाने का ठिकाना है और ना प्यास बुझाने का इंतजाम. ऐसे में कोई आकर इनकी मदद कर दे तो उसे किसी मसीहा से कम नहीं माना जा सकता.

आज के दौर में भी कुछ ऐसे लोग हैं जो इंसानियत की मिसाल बने हुए हैं

इस कोरोना जैसी खतरनाक बीमारी के दौर में जब चारों तरफ लॉकडाउन लगा है रोजगार मिलना बंद हो गया है ऐसी संकट की घड़ी में भूखे प्यासे लोगों का पेट भरने कुछ युवा सामने आए है आज जब देश में संकट की घड़ी है उस समय भूखे प्यासे लोगों का पेट भर रहे हैं

muft me bant rhe gareebo ko bhojan
bhopal news

रीवा जिले के रहने वाले हैं सभी युवा अनूप त्रिपाठी ,विकास दुबे,मान गहरवार ,पीयूष जैन,अजीत गहरवार और सिद्धार्थ गहरवार सभी युवा मिलकर 10 दिनों से लगातार भूखे लोगों का पेट भर रहे हैं अभी तक 1850 लोगो को भोजन करा चुके हैं और 150 परिवारों को मुफ्त में राशन बांट चुके हैं इसके साथ ही मुफ्त में मास्क सेनीटाइजर पानी पाउच भी बांट रहे हैं

अगर आप भी भोपाल में रहते हैं और आप मुश्किल में हैं तो आप दिए हुए नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं 9630127461, 9425870005, 9131127897 6268006321

देश की इस मुश्किल घड़ी में अगर सभी युवा एक साथ खड़े हो जाए तो मुश्किल से मुश्किल हालात का भी सामना किया जा सकता है आप भी इस नेक काम में हिस्सा ले सकते हैं

दिए गए नंबर 6268006321 में phone pay या google pay के माध्यम से आप सहायता राशि दे सकते हैं और भूखे लोगों का पेट भर सकते हैं

कोरोना संक्रमण से बचने के लिए गांव के लोगों ने खुद को किया कैद , सड़कों में लिखी चेतावनी

Tags:
Next Story
Share it