रीवा नहर में डूबने वाले MBBS छात्र की याद में दोस्तों ने बनाया रौनक पार्क

रीवा श्याम शाह मेडिकल कॉलेज के छात्रों ने दोस्ती की मिसाल पेश की है। अपने दिवंगत दोस्त रौनक की याद में उन्होंने कैंपस में पार्क ही बना डाला मेडिकल कॉलेज रीवा में अध्ययनरत MBBS अंतिम वर्ष का छात्र डॉ. रौनक भंडारी निवासी खरगोन सिलपरा नगर में नहाने गया था नहाने के दौरान रौनक भंडारी नहर […]

Shyam Shah Medical College rewa raunak park
X

रीवा श्याम शाह मेडिकल कॉलेज के छात्रों ने दोस्ती की मिसाल पेश की है। अपने दिवंगत दोस्त रौनक की याद में उन्होंने कैंपस में पार्क ही बना डाला मेडिकल कॉलेज रीवा में अध्ययनरत MBBS अंतिम वर्ष का छात्र डॉ. रौनक भंडारी निवासी खरगोन सिलपरा नगर में नहाने गया था नहाने के दौरान रौनक भंडारी नहर में बह गया। कुछ देर बाद देखते ही देखते वह गहरे पानी में समा गया और छात्र की नहर में डूब कर मौत हो गई थी। डॉ. रौनक भंडारी को पेड़-पौधों से लगाव था, इसलिए दोस्तों ने श्रमदान कर पेड़-पौधे लगाए। और पार्क को पूरी तरह से तैयार कर दिया रौनक के माता-पिता और परिवार वाले इसका शुभारंभ भी कर चुके हैं।




Shyam Shah Medical College rewa raunak park
Shyam Shah Medical College rewa raunak park

सिलपरा नहर में पिकनिक मनाने गया था रौनक

एग्जाम के बाद 6 मार्च 2021 की शाम डॉ. रौनक भंडारी दोस्तों के साथ सिलपरा नहर में पिकनिक मनाने गया था। नहर में सभी दोस्त नहाने के लिए उतरे। इसी बीच, रौनक पानी के तेज बहाव में बह गए। पानी में डूबने से उसकी मौत हो गई।




डॉ. रौनक को पेड़ पौधों से था प्यार

दोस्त डॉ. गर्वित गर्ग ने बताया कि रौनक अक्सर पर्यावरण की बात करते थे। साथ ही, मेडिकल की पढ़ाई के समय साथियों के बीच पर्यावरण प्रेमी के रूप में पहचान थी। सहपाठियों का कहना है कि वह होस्टल से लेकर कॉलेज तक सहज स्वभाव का था। उसे पौधों से बेहर प्यार था। ऐसे में दोस्तों ने तय किया, रौनक की याद में कॉलेज परिसर के अंदर एक पार्क तैयार किए जाएं। और दोस्तों ने मिल कर पार्क तैयार कर दिया !

100 दोस्तों ने मिल कर पार्क को लिया गोद

रीवा श्याम शाह मेडिकल कॉलेज के सीनियर छात्रों ने बताया, की 2016 बैच के सभी छात्रों ने इस पार्क को गोद लिया है। खासकर क्लास के 100 दोस्तों ने तैयार किया है। वहीं, शुरुआती दौर में मेडिकल प्रबंधन और सीनियर छात्रों की सहमति के बाद श्रमदान से पार्क बनाने का निर्णय लिया गया था। फिर कॉलेज के सीनियर डॉक्टरों ने मार्गदर्शन कर पार्क को रौनक उपवन बना दिया। इसे तैयार कराने में दोस्तों से लेकर मेडिकल प्रबंधन ने फूलों के साथ ही फलदार पौधे भी लगाए गए हैं।




यह खबर भी पढ़िए -

Tags:
Next Story
Share it