कांग्रेस कार्यालय में लगे पोस्टर में कमलनाथ को कृष्ण और शिवराज को कंस दिखाया गया

भोपाल | कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय के बाहर लगाए एक पोस्टर को लेकर एक बार फिर 'महाभारत' शुरू हो गई है। इस पोस्टर में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को भगवान् कृष्ण के अवतार में दिखाया गया, जबकि mp के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ‘कंस मामा’ के रूप में दिखाया जा […]

कृष्ण अवतार में कमलनाथ का पोस्टर
X

भोपाल | कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय के बाहर लगाए एक पोस्टर को लेकर एक बार फिर 'महाभारत' शुरू हो गई है। इस पोस्टर में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को भगवान् कृष्ण के अवतार में दिखाया गया, जबकि mp के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ‘कंस मामा’ के रूप में दिखाया जा रहा है । जिसके बाद बीजेपी ने कहा कि कांग्रेस हिंदू धर्म का अपमान कर रही है। इस पर कांग्रेस ने पलटवार कर कहा कि प्रदेश की स्थिति अभी ऐसी ही बनी है, जैसा पोस्टर में चित्रित किया गया है। फिर इनके (बीजेपी) नेता तो जूता पहनकर सुंदरकांड का पाठ कर रहे हैं।

हालांकि विवाद बढ़ते देख कांग्रेस ने इस पोस्टर को बुधवार को हटा दिया है। बताया जाता है कि इस तरह के पोस्टर लगाने से कमलनाथ नाराज हुए हैं। आप को बता दें की पोस्टर लगाने वाले दो कांग्रेस नेता शहरयार खान और स्वदेश शर्मा पर एक्शन भी हो सकता है।

कांग्रेस नेता शहरयार खान ने सफाई देते हुए कहा कि जब धरती पर पाप बढ़ता है तो भगवान किसी को भेजते हैं। कमलनाथ तो विकास पुरुष हैं। उनका छिंदवाड़ा मॉडल प्रदेश में विकास की आदर्श मिसाल है, जबकि सीएम शिवराज सिंह चौहान ने यहां कुछ खास नहीं किया।

जन्माष्टमी पर पोस्टर वायरल होने के बाद प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि धर्म का मखौल उड़ाने का पूरी कांग्रेस ने मन बना लिया है। पहले सोनिया गांधी को दुर्गा के रूप में प्रस्तुत किया और अब कमलनाथ को कृष्ण बना दिया। इससे मूल राष्ट्रवाद और हिंदुओं की भावनाएं आहत होती हैं। महान भारत को यह बदनाम भारत बोलते हैं। कांग्रेस की यह सोच जनता के सामने आ रही है।

यह खबर भी पढ़िए !

Tags:
Next Story
Share it