चश्मा घोटाले के आरोप मे सीधी से हटाये गये सीएमएचओ का अब रीवा मे भी शुरू है कारनामे,

रीवा MP! मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर बीएल मिश्रा के पदस्थापना दौरान से पूरे जिले मे अबैध पैथालॉजी सहित अबैध मेडिकल स्टोरो की बाढ आ गई,जांच के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति की जा रही है!बीते रविवार की रात जिले से एक टीम अवैध पैथोलॉजी की जांच करने मऊगंज पहुंची थी!जो सटरो सहित दीवालो मे […]

अबैध मेडिकल स्टोरो
X

रीवा MP! मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर बीएल मिश्रा के पदस्थापना दौरान से पूरे जिले मे अबैध पैथालॉजी सहित अबैध मेडिकल स्टोरो की बाढ आ गई,जांच के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति की जा रही है!बीते रविवार की रात जिले से एक टीम अवैध पैथोलॉजी की जांच करने मऊगंज पहुंची थी!जो सटरो सहित दीवालो मे एक आदेश चस्पा कर बैरंग लौट गई,माना जा रहा था की ये पैथालाजी अब हमेशा के लिये बंद हो जायेगे, पर सुबह होते ही सभी पैथालॉजी प्रतिदिन की तरह खुलने लगे,जिसके बाद से लोगो के मन मे बड़ा सबाल उठने लगा की मऊगंज की ये पैथालॉजी रात मे अबैध पाई गई थी ,

और सुवह होते होते अचानक बैध कैसे हो गई ,जो नोटिस के बाद भी संचालित है,कोई बड़ा चमत्कार यहा देखने को मिल रहा है, सोशल मीडिया में फैलाई जा रही बड़ी कार्यवाही की भ्रामक खबरों के बाद से लोग अब अचंभित हैं,सूत्रो की माने तो जिन्होने समय पर नजराना भेट नही किया था,उन पैथालाजी के सटरो सहित दुकानों मे नोटिस चस्पा कर उन्हे रीवा बुलाया गया,इसके बाद क्या हुआ होगा रीवा जिले के भाजपा नेता सहित मऊगंज क्षेत्र की जनता जान रही है,क्योकि मऊगंज नगर मे एक दर्जन से ज्यादा फर्जी मेडिकल स्टोर खुलेआम संचालित हो रहे है,इसी तरह पैथालॉजी का भी हाल है,




वैसे भी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ अधिकारी रीवा बीएल मिश्रा जिनका नाम काफी चर्चित है,सीधी पदस्थापना दौरान ये बिबादो मे घिरे रहे,क्योकि अंधत्व निवारण योजना के तहत स्कूली बच्चों को चश्मा वितरित करने के नाम पर इनके ऊपर भ्रष्टाचार का गंभीर आरोप लगा था,सीधी के चश्मा कांड घोटाले को उजागर करते हुऐ राज्यसभा सांसद अजय प्रताप सिंह ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर इनके भ्रष्ट व्यवस्था पर सवाल उठाए थे ,जिसके बाद डॉक्टर मिश्रा को सीधी से हटाया गया,पर सत्ताधारी दल में इनकी गहरी पैठ होने की वजह से इन्हें रीवा का प्रभार दिया गया!तभी से इनके ऊपर लेनदेन का आरोप लगने लगे है,जबतक इनकी कृपा रही तबतक ये अबैध पैथालाजी सहित अबैध मेडिकल स्टोर इसी तरह फलते फूलते रहेगे

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी REWA
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी REWA

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित रीवा के आठो बिधायक अपने भ्रषणो मे अक्सर यही कहते है की हमारी भाजपा सरकार ने भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करने का काम किया है!सीएम तो यहा तक कह रहे है की भ्रष्टाचारियों प्रदेश छोड़ दो नहीं तो 10 फीट नीचे गाड़ दूंगा!ऐसे मे सीएमएचओ डाक्टर बीएल मिश्रा का नाम सुनते ही हशी आती है!क्योकि बिना नेत्र परीक्षण किये ही स्कूल बंद होने की दशा मे भी इनके द्वारा चश्मा खरीदी की गई, इसी तरह आसा डायरी घोटाला,एरियस भुगतान के बदले कर्मचारियों से कमीशन लेने जैसे गंभीर आरोप राज्यसभा सांसद अजय प्रताप सिंह ने सीएम शिवराज सिंह को शिकायती पत्र सौंपते हुए लगाये थे,इसके बाद भी इन्हे रीवा जैसे जिले का मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ अधिकारी बनाया गया है,

यह खबर भी पढ़िए !

Tags:
Next Story
Share it