Madhya Pradesh

मध्यप्रदेश की यह गौशाला बनी मवेशियों का कब्रिस्तान, 2 दिन में 40 से अधिक मवेशियों की मौत

मऊगंज जिले के जनपद पंचायत अंतर्गत बेलहाई गौशाला का मामला

मध्य प्रदेश के मऊगंज जिले की बेलहाई गौशाला मवेशियों का कब्रिस्तान बना चुकी है. गौशाला के अंदर हर तरफ मवेशियों की लाशें बिखरी पड़ी हुई है. शासन के द्वारा आवारा मवेशियों के रखरखाव के लिए गौशाला का निर्माण करवाया गया था. जहां हर एक मवेशी के लिए प्रतिदिन ₹20 के हिसाब से बजट भेजा जाता है. जिससे इन मवेशियों का पालन पोषण हो सके. लेकिन मऊगंज जिले की बेलहाई गौशाला में भूख और प्यास से 2 दिन में लगभग 40 से अधिक मवेशी मर गए.

मऊगंज कलेक्टर अजय श्रीवास्तव के द्वारा जिले में धारा 144 लगाकर मवेशियों को गौशाला में तो रखवा दिया गया लेकिन दोबारा उनकी खोज खबर लेना भूल गए. मऊगंज जनपद पंचायत अंतर्गत आने वाली बेलहाई गौशाला में इतने मवेशी मारे की पूरी गौशाला ही खाली हो गई. ग्रामीणों के मुताबिक गौशाला का यह हाल कई महीनो से है शासन के द्वारा हाल ही में 2 लाख के लगभग बजट गौशाला के लिए भेजा गया था लेकिन यह राशि हजम कर ली गई.

Republic Day 2024: गणतंत्र दिवस पर उज्जैन में CM Mohan और रीवा में डिप्टी सीएम राजेंद्र शुक्ला करेंगे ध्वजारोहण, जानिए आपके जिले में किसको मिली जिम्मेदारी

हर एक गौशाला का यही हाल

मऊगंज जिले की लगभग हर एक गौशाला का यही हाल है जहां मवेशी भूख और प्यास एवं ठंड से दम तोड़ रहे हैं. लेकिन शासन प्रशासन मौन बैठा हुआ है. अगर अब इस पर संज्ञान नहीं लिया गया तो मऊगंज जिले से मवेशी ही विलुप्त हो जाएंगे.

 

जरूर पढिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker!