Madhya Pradesh

Rewa Mauganj News: मध्य प्रदेश के नवगठित मऊगंज जिले में चोरी हो गए बोरवेल, जांच करने आई टीम को भी नहीं आए नजर

मध्य प्रदेश के नवगठित 53 व जिला मऊगंज में नगर परिषद द्वारा कराए गए बोर हुऐ चोरी, ढूढने मे जुटी जांच टीम

Rewa Mauganj News: मध्य प्रदेश के नवगठित मऊगंज जिला मुख्यालय अंतर्गत नगर परिषद द्वारा कराया गया बोरवेल चोरी हो गया. जिसकी जांच करने पहुची टीम अब खोजबीन शूरू कर दिया है पर अभी तक यह बोरवेल मऊगंज की धरती मे खोजने से भी नही मिल रहे है. आखिर यह बोर कैसे गायब हो गये जांच के बाद ही पता चलेगा.

नगर परिषद मऊगंज का घोटाला इन दिनों खासा चर्चा में है. भाजपा पार्षदों की शिकायत की जांच करने पहुंची टीम को घोटाले के बोरवेल खोजने से नहीं मिल रहे हैं. मऊगंज नगर परिषद मे हुऐ भ्रष्टाचार में सम्मिलित भ्रष्टाचारियों को बचाने रीवा जिले के विधायक का नाम खूब सामने आ रहा है. क्योंकि उनकी सिफारिश के बाद जांच टीम के पसीने छूटने लगे. मऊगंज नगर परिषद मे हुऐ भ्रष्टाचार की जांच करने पहुंचे टीम के अधिकारी ने खुद दवी जुवान स्वीकार किया की जांच दबाने लगातार फोन आ रहे हैं पर मुझे न्यायालय में जबाब देना है. हालांकि आधी अधूरी जांच कर टीम बैरन लौट गई.

Rewa Mauganj News: मोहन सरकार में अफसर शाही हावी, सरकारी डॉक्टर के आवास पर संविदा का कब्जा

मऊगंज नगर परिषद में अजब -गजब के घोटाले हुए हैं जो परत दर परत सामने आ रहे हैं. जिसकी शिकायत भाजपा पार्षदों ने नगरीय प्रशासन सहित लोकायुक्त से करते हुए उच्च न्यायालय जबलपुर में परिवाद पत्र दायर करते हुआ किया है. भ्रष्टाचार की जांच करने नगरीय प्रशासन की टीम मऊगंज पहुची. उन बोरवेल को ढूंढने में लगी रही जिसका फर्जी भुगतान नगर परिषद द्वारा किया गया है पर वह बोर धरती पर दिखाई ही नहीं दे रहे हैं.

विधायक निधि से हुऐ बोर का फर्जी भुगतान

मऊगंज नगर परिषद क्षेत्र अंतर्गत जिस बोरवेल को पूर्व विधायक सुखेंद्र सिंह बन्ना ने अपने कार्यकाल दौरान विधायक निधि से कराया था,उसी बोर के नाम से नगर परिषद ने फर्जी भुगतान कर बंदर बांट कर लिया. विधायक निधि वा किसानों द्वारा अपने स्वयं की भूमि पर निजी पूंजी से कराए गए बोर को नगर परिषद सीएमओ उपयंत्री और अध्यक्ष अपना बताने में जुटे है. भ्रष्टाचार की सारी हदे भी पार हो गई जब कई वार्डों में बिना खनन के ही बोरवेल का पेमेंट किया गया है अब वह बोर ढूंढने से भी धरती में नहीं मिल रहा हैं.

REWA COLLECTOR PRATIBHA PAL ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि से वंचित किसानों को लेकर दिया बड़ा निर्देश

ट्रैक्टर खरीदी घोटाला

मऊगंज नगर परिषद में हैंडपंप खनन के साथ ट्रैक्टर घोटाला भी हुआ है, जो ट्रैक्टर किसानो को 5.50 लाख मे मिल रहा हैं. वही ट्रैक्टर का नगर परिषद ने 7.50 लाख रुपये भुगतान करते हुऐ खरीदा है. इतना ही नहीं यहां स्वच्छता के नाम पर भी जमकर भ्रष्टाचार हुआ है.

बिजली खरीदी घोटाला

मऊगंज नगर परिषद मे बिजली सामग्री खरीदी मे भी जमकर घोटाला हुआ है,यहां बिजली खरीदी के नाम पर फर्जी भुगतान किया गया है!ब्रांडेड कंपनी के नाम से भुगतान कर लोकल बिजली सामग्री खरीदी की गई है! मऊगंज नगर मे आधे मोहल्ले में शाम ढलते ही अंधेरा छा जाता है.

घोटालेवाज़ों को साथ लेकर घूम रही जांच टीम

मऊगंज नगर परिषद के घोटालों की जांच करने आई टीम खुद गंभीर आरोपो मे घिरी हुई है. जिनके खिलाफ भ्रष्टाचार का आरोप है. उन्हें अपने साथ में लेकर जांच टीम उनके भ्रष्टाचार की जांच कर रही है. जबकी जिन्होंने भ्रष्टाचार उजागर कर शिकायत किया था. जाच टीम उन्हें आने की जानकारी भी नहीं दिया. लोगों द्वारा स्वयं की पूंजी से कराए गए बोर को नगर परिषद के सीएमओ उपयंत्री अपना गिनने में जुटी है.

जरूर पढिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker!